Difference Between Himalayan and Peninsular Rivers in Hindi

2
451
Difference Between Himalayan Rivers and The Peninsular Rivers System

पिछली लेख मे हमने आप लोगों से भारत की महत्वपूर्ण नदियों (Major Drainage system of India) के बारे मे चर्चा की थी। जिसमे हमने आप लोगो को भारत की नदियों (Rivers of India) के विषय में थोड़ा विस्तार के साथ अथवा मूलभूत जानकारी दी गई थी। आप इस लेख को उसी का विस्तार कह सकते है

इस लेख मे हम हिमालयन नदी प्रणाली और प्रायद्वीपीय नदी प्रणाली के बीच मुख्य अंतर (Main Difference Between Himalayan and Peninsular Rivers in Hindi) को व्यक्त करेंगे।

Difference Between Himalayan and Peninsular Rivers in Hindi (Rivers of India)..!

(हिमालयनदी प्रणाली और प्रायद्वीपीय नदी प्रणाली के बीच मुख्य अंतर..!)

हिमालय की नदियां (Himalayan River) :-

    1. हिमालय की नदियां (Himalayan River) काफी लंबी होती है।
      1. गंगा नदी (Ganga River) की लंबाई गंगा की लंबाई 2525 किलोमीटर है।
      2. सिन्धु नदी (Sindhu River) की लंबाई गंगा की लंबाई 2880 किलोमीटर है।
    2. हिमालय की नदियां (Himalayan River) विसर्प बनाते हुए चलती है। इसलिए इनकी लंबाई ज्यादा होती है।
    3. हिमालय की नदियां (Himalayan River) सतत वाहिनी होती है, इसलिए इनमें हमेशा पानी रहता है।
    4. हिमालय की नदियां (Himalayan River) हिमनद से निकलती हैं।
    5. हिमालय की नदियां (Himalayan River) हैं अभी भी युवावस्था में है।
    6. हिमालय की घाटियां चौड़ी और गहरी होती हैं।
    7. हिमालय की नदियां (Himalayan River) स्टीमर तथा सिंचाई के लिए अनुकूल है।
    8. हिमालय की नदियों (Himalayan River) में अनेक सहायक नदियां (Tributaries) मिलती हैं।
    9. हिमालय से निकलने वाली कोई भी नदी पठार की किसी भी नदी की सहायक नदी (Tributaries) नहीं है।
    10. हिमालय से निकलने वाली नदियों का जल आयतन (Water Volume) ज्यादा होता है।
      1. कारण – इन्हें वर्षा का जल ज्यादा मिलता है। इनकी बारह मासी नदियाँ भी कहते है।
      2. हिमनदों (Glaciers) के पिघलने से इनको जल मिलता है।
    11. हिमालय की नदियां (Himalayan River) में मूल रूप से तीन अपवाह तंत्र (Drainage System) है।
    12. हिमालय की नदियां (Himalayan River) बड़े डेल्टा (Large Delta) बनाती हैं।
    13. हिमालय की नदियां (Himalayan River) जहां से बहती है वह अधिकांश भाग समतल (Plain) है।
    14. हिमालय की नदियां (Himalayan River) विसर्प और गोखुर झील जैसी आकृति भी बनाती हैं।
    15. हिमालय की नदियां (Himalayan River) बाढ़ से ग्रस्त रहती हैं।
    16. हिमालय की नदियां (Himalayan River) अपना मार्ग परिवर्तित करती हैं। जैसे यमुना नदी, कोसी नदी, तीस्ता नदी, घाघरा नदी आदि।
    17. हिमालय की नदियां (Himalayan River) अंतरराष्ट्रीय सीमा (International Border) बनाती है।
    18. हिमालय की नदियों (Himalayan River) का ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व (Historical and Religious Significance) है।

Click Here :- Lockdown is the Best Time to Discover Yourself…!!

Click Here :- Major Information of Important Rivers of India!


प्रायद्वीपीय नदियाँ या पठार की नदियां (The Peninsular Rivers System)

  1. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) हिमालय की नदियों की तुलना में छोटी होती है।
    • गोदावरी नदी (Godavari River) की लंबाई 1465 किलोमीटर है।
    • कृष्णानदी (Krishna River) की लंबाई 1401 किलोमीटर है।
  2. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) भ्रंश घाटी से गुजरती है, इसलिए इनकी गति कम होती है।
  3. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) मौसमी स्वभाव की होती हैं।
  4. प्रायद्वीपीय नदियों (Peninsular Rivers) का जल का स्त्रोत वर्षा है।
  5. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) अपने आधार को प्राप्त कर चुकी हैं।
  6. पठार की घाटियां कम चौड़ी और कम गहरी हैं।
  7. यह नदियां स्टीमर और सिंचाई के लिए अनुकूल नहीं है।
  8. प्रायद्वीपीय नदियों (Peninsular Rivers) में सहायक नदी बहुत कम मिलती है।
  9. पठारो से निकलने वाली कुछ नदियां पठार से निकलने के बावजूद वह उत्तर भारत की नदियों (Northern Rivers) की सहायक नदी बन जाती है।
  10. प्रायद्वीपीय नदियों (Peninsular Rivers) का जल का आयतन (Volume of Water) तुलनात्मक कम होता है।
    • अपवाद – तमिलनाडु की नदियों को दो मानसून से अधिक जल प्राप्त होता है।
      • दक्षिण पूर्वी मानसून (गर्मी के महीने में)।
      • उत्तरी पूर्वी मानसून (शीतकाल में)।
  11. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) सैकड़ों प्रवाह तंत्रो (Drainage System) का निर्माण करती है।
  12. पठार की नदियां छोटेछोटे डेल्टा बनाती है (अरब सागर में गिरने वाली नदी नदमुख (Estuary) बनाती है जैसे – नर्मदा नदी…)।
  13. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) जहां से बहती है वह अधिकांश भाग समतल (Plain Area) नही है।
  14. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) हिमालयन नदियों की तरह विसर्प नहीं बनाती, यह नदियां सीधा बहती है।
  15. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) में हिमालयन नदियों की तुलना में बाढ़ नही आती है।
  16. प्रायद्वीपीय नदियां (Peninsular Rivers) अपना मार्ग नहीं बदलती है।
  17. पठार की कोई भी नहीं अंतरराष्ट्रीय सीमा (International Border) नहीं बनाती है।
  18. पठार की नदियों का ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व (Historical and religious significance) तुलनात्मक बहुत कम है।

Click Here :- Major Information of Northern Plains of India ! Point by Point

Read More :- Ganga River in Hindi : History, Route, Origin, Facts, Tributaries,

Click Here :-प्रकृति के सिद्धांत और धर्म एवं परंपराएं (Principles of Nature and Religions and Traditions


इस लेख के माध्यम से हमने आपको भारत की नदियों (Rivers of India) के अंतर्गत हिमालयन नदी प्रणाली और प्रायद्वीपीय नदी प्रणाली के बीच मुख्य अंतर (Difference Between Himalayan and Peninsular Rivers)के विषय में मूलभूत जानकारी दी गई है। हमें उम्मीद है कि आपको यह लेख पसंद आया होगा।

आपके सवाल और सुझावों का हमेशा से स्वागत है। आप हमें अपने सवाल और सुझाव Comment कर सकते हैं या हमें E-Mail करके भी सूचित कर सकते हैं।

धन्यवाद !

जय हिन्द जय भारत !! 

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here